_WZnYPlCnd4IlO55X8xQqT_ZD3-qXsA45Zw4Ko-5V1Y

नौकरी और व्यापार मे आ रही समस्या, अपनाए ये अचूक टोटके…

लॉकडाउन के बाद से ही अर्थुक व्यवस्था बिगड़ी हुई हैं जिसमें व्यापारियों को तो नुकसान हो ही रहा हैं लेकिन इसी के साथ ही कई लाखों लोगों को अपनी नौकरी गंवानी पड़ी या कम तनख्वाह के काम करना पड़ रहा हैं।

ऐसे में सभी चाहते हैं कि उनके काम में आ रही बाधा जल्द दूर हो और परेशानियों का अंत हो। इसलिए आज इस कड़ी में हम आपके लिए कुछ उपाय लेकर आए हैं जिनकी मदद से इन समस्याओं का अंत कर कामयाबी पाई जा सकती हैं। तो आइये जानते हैं इन उपायों के बारे में।

सूर्य देव की करें आराधना

सूर्य ग्रह सार्वजनिक और निजी क्षेत्र में उच्च पद की प्राप्ति और लीडरशिप का कारक है। यानि जब आपकी तरक्की होगी तो आपको उच्च पद प्राप्त होगा और यह बिना लीडरशिप क्वालिटी के संभव नहीं है। अतः सूर्य ग्रह की उपासना कर आप करियर में सफलता प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए रोजाना सूर्योदय के समय सूर्य देवता को जल का अर्ग्घ दें।

शनि ग्रह को बनाएं शक्तिशाली

शनि ग्रह कर्म फलदाता है। यह कर्म भाव यानि कुंडली के दशम भाव का भी अधिपति है। यदि किसी जातक की कुंडली में शनि ग्रह कमजोर है तो निश्चित ही उसे कार्यक्षेत्र में परेशानियां आ रही होंगी। ऐसी स्थिति में शनि ग्रह की शांति के उपाय करने चाहिए। इसके निमित्त आप शनिवार व्रत, शनिवार को काले तिल और सरसों के तेल का दान कर सकते हैं।

घर पर कराएं नवग्रह शांति के लिए हवन

नवग्रह शांति हवन से सभी ग्रह शुभ हो जाते हैं और फिर जातकों को इसके शुभ परिणाम प्राप्त होते हैं। इसके लिए आपको योग्य पंडित से हवन कराना चाहिए। नवग्रह शांति के लिए आप नवग्रह यंत्र को शुभ मुहूर्त में स्थापित कर उसकी आराधना कर सकते हैं।

फेंगशुई सिद्धांतों का करें प्रयोग

फेंगशुई सिद्धांत के अनुसार घर, व्यापारिक अनुष्ठान या ऑफिस की जीवन सभी क्षेत्रों में तरक्की को दर्शाती है। ऐसे में घर की यह दिशा शुभ हो इसके लिए इस दिशा में एक्वेरियम, फव्वारा, या विभिन्न रंगों वाली मछली हो ऐसी व्यवस्था करें।दीवार पर नीला या काले रंग का चित्र भी लगाएं।

कुंडली के दशम भाव को करें मजबूत

Loading...

आपकी कुंडली के दशम भाव जो ग्रह बैठा है, सबसे पहले उस ग्रह को मजबूत करें, तथा इस भाव पर किसी शत्रु ग्रह की दृष्टि है तो उसके भी उपाय करें। इसके लिए आप किसी विद्वान ज्योतिष से सलाह ले सकते हैं या स्वयं ही जानकारी जुटाकर इस ग्रह को मजबूत कर सकते हैं।

Show More

Related Articles