प्रियंका गांधी ने संभाली दिल्ली विधानसभा चुनावों की कमान, दिया ये बड़ा बयान

दिल्ली में सभी राजनीतिक पार्टियां आगामी विधानसभा चुनावों की तैयारियों में जोर-शोर से जुटी हैं। आम आदमी पार्टी जहां मुफ्त योजनाओं से वोट साधने की कोशिश कर रही है तो वहीं बीजेपी हर मुद्दे पर AAP को घेरने में जुटी है। चुनावी रण से नदारद दिखती कांग्रेस ने भी प्रियंका गांधी को कमान संभालते हुए अब तैयारियां शुरु कर दी है।

मंगलवार शाम को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने दिल्ली कांग्रेस की कमान संभालते हुए चुनवी रणनीति तय की। साथ ही ये भी आश्वासन दिया कि जब भी दिल्ली में उनकी जरूरत होगी तो उन्हें वहां बुलाया जा सकता है। हरियाणा में कांग्रेस के प्रदर्शन से प्रियंका काफी खुश हैं और उन्होंने पार्टी के नेताओं से ये भी कहा है कि यदि सही ढंग से चुनाव लड़ा गया तो दिल्ली में कांग्रेस ही सत्ता में आएगी।

प्रियंका गांधी ने दिल्ली के सभी जिला अध्यक्षों और सभी फ्रंटल संगठनों के अध्यक्षों के साथ लंबी बैठक कर चुनावी रणनीति तय की। प्रियंका ने नेताओं से कहा कि कांग्रेस द्वारा किए गए कार्यों को सोशल मीडिया और जनसंपर्क कर लोगों तक पहुंचाने का काम करें। वहीं प्रदूषण के मुद्दे को भुनानें की सलाह भी प्रियंका ने दी। इस मुद्दे को लेकर जन-जन तक पहुंचिए और उन्हें मास्क भी बांटिए।

प्रियंका ने दिंसबर की शुरुआत में एक रैली या जनसभा करने का आदेश भी दिया गया है। जिसे कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी संबोधित करेंगी। प्रियंका ने सुभाष चोपड़ा और पीसी चाको की सराहना करते हुए कहा कि दिल्ली में सभी कांग्रेस नेता संगठित हो रहे हैं और पार्टी अच्छा काम कर रही है।

ये बैठक अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआइसीसी) के वार रूम में हुई। इस दौरान दिल्ली कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा, चुनाव प्रचार समिति के अध्यक्ष कीर्ति आजाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल, एआइसीसी महासचिव केसी वेणुगोपाल और प्रदेश प्रभारी पीसी चाको मौजूद रहे।

Loading...
Show More

Related Articles