_WZnYPlCnd4IlO55X8xQqT_ZD3-qXsA45Zw4Ko-5V1Y

श्रीलंकाई पीएम राजपक्षे ने बाबा विश्वनाथ के किए दर्शन, की विधि-विधान से पूजा

नई दिल्लीः रविवार को बाबा विश्वनाथ मंदिर में श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे ने विधि-विधान से पूजा-अर्चना की। इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था काफी चाक-चौबंद रही। राजपक्षे भगवान बुद्ध के प्रथम उपदेश स्थली का भी दर्शन करेंगे।

रविवार को श्रीलंकाई प्रधानमंत्री राजपक्षे ने काशी विश्वनाथ मंदिर में षोडशोपचार विधि-विधान से पूजन किया। एयरपोर्ट से लेकर मंदिर तक पूरे रास्ते को सील कर दिया गया है। गोदौलिया और मैदागिन की ओर से आने वाले वाहनों को दूसरी ओर डायवर्ट किया गया है।

Loading...

मंदिर प्रशासन की ओर से श्रीलंका के प्रधानमंत्री को अंगवस्त्रम प्रसाद रुद्राक्ष की माला और बाबा की फोटो प्रदान की, साथ ही पैकेट बंद बाबा का भस्मी भी प्रदान की गई। बाबा के दर्शन के बाद महिंदा राजपक्षे ने बाबा काल भैरव का भी दर्शन-पूजन किया। मंदिर के पुजारी शास्त्रोक्त विधि से दादा की पूजा-अर्चना कराई इसके बाद उन्हें बाबा का प्रसाद दिया गया।

बता दें कि माघी पूर्णिमा पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़ के बीच श्रीलंका के प्रधानमंत्री दर्शन-पूजन के बाद ताज होटल रवाना होंगे, जहां वह लंच करेंगे। लंच के बाद भगवान बुद्ध के प्रथम धर्म उपदेश स्थली के दर्शन करेंगे। यह जानकारी महाबोधि सोसायटी ऑफ इंडिया के संयुक्त सचिव भिक्षु के मेधांकर थेरो ने दी। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री दोपहर साढ़े तीन बजे सारनाथ पहुंचेंगे।

श्रीलंकाई प्रधानमंत्री राजपक्षे तथागत की उपदेश स्थली, धमेख स्तूप के दर्शन पूजन करेंगे। इसके बाद वह मूलगंध कुटी विहार में बौद्ध मंदिर में भगवान बुद्ध का पूजन कर बौद्ध भिक्षुओं से आशीर्वाद लेंगे। इस दौरान वह सारनाथ पुरातात्विक संग्रहालय भी देखेंगे।

बता दें कि श्रीलंका के प्रधानमंत्री राजपक्षे ने रविवार सुबह करीब 10 बजे वाराणसी एयरपोर्ट पहुंचे। एयरपोर्ट पर श्रीलंका के प्रधानमंत्री का एयरपोर्ट निदेशक आकाशदीप माथुर ने बुके देकर स्वागत किया। इस दौरान सीआईएसएफ कमाण्डेंट सुब्रत झा भी एयरपोर्ट पर मौजूद रहे। इसके बाद उन्होंने एयरपोर्ट से 10ः15 बजे शहर के लिए प्रस्थान किया। प्रधानमंत्री के आने के बाद प्रशानस अलर्ट हो गया है और सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

Show More

Related Articles